BCA kya hai

BCA एक कंप्यूटर आधारित ग्रेजुएशन कोर्स है। BCA का पूरा नाम बैचलर ऑफ कंप्यूटर एप्लीकेशन होता है। बी सी ए का कोर्स आपको देश के लगभग सभी विश्वविद्यालय एवम महाविद्यालय में मिल जाएगा।

अगर आपको BCA करना है तो इसके लिए जो योग्यता है वह आप में होना चाहिए। इसके लिए आपको 12 वीं कक्षा में मैथ या कंप्यूटर से पढ़ाई करके 45 से 50% मार्क लाने होते हैं। इसके अलावा आपको कुछ कॉलेज या विश्वविद्यालय में आप किसी भी स्ट्रीम से 12वीं पास की हो तभी आपको BCA में एडमिशन मिल जाता है।

यह 3 साल का कोर्स होता है बहुत से कॉलेज में बीसीए में प्रवेश के लिए प्रवेश परीक्षा देना होता है और बहुत से कॉलेज में मेरिट पर होता है आपको जहां प्रवेश लेना है वहां आप पता कर सकते हैं।

BCA में आपको केवल कंप्यूटर से संबंधित चीजों के बारे में सिखाया जाता है यह टेक्निकल डिग्री का कोर्स होता है। इसमें आपको कंप्यूटर, आईटी फील्ड के लिए तैयार किया जाता है।

इसमें आपको एप्लीकेशन बनाने के बारे में वेबसाइट डिजाइन करने के बारे में और कंप्यूटर से संबंधित सभी चीजों के बारे में सिखाया जाता है अगर आप इसके लिए उत्सुक हैं तो आप BCA कर सकते हैं।

BCA करने के फायदे:-

  • आज के जमाने में कंप्यूटर का बहुत ज्यादा महत्व है। अगर आप BCA कर लेते हैं तो आपको जॉब मिलने की संभावना बढ़ जाती है।
  • BCA मैं आपको एप्लीकेशन बनाने से संबंधित बहुत सी जानकारियां दी जाती हैं BCA करने के बाद आप खुद ही अच्छा एप्लीकेशन बना सकते हैं।
  • BCA मैं आपको वेबसाइट डिजाइन करने के बारे में भी सिखाया जाता है BCA करने के बाद आप एक अच्छे वेबसाइट डिजाइन भी बन सकते हैं।
  • आज का जमाना कंप्यूटर पर आधारित है अगर आप भी BCA कर लेते हैं तो आपको कंप्यूटर के क्षेत्र में अच्छी खासी जॉब मिल सकती है।
  • BCA करने के बाद आप सॉफ्टवेयर इंजीनियर भी बन सकते हैं और ढेर सारा पैसा भी कमा सकते हैं
  • BCA करने के बाद आप MCA भी कर सकते हैं जो उच्च शिक्षा के रूप में एक महत्वपूर्ण डिग्री है

उम्मीद करता हु की यह आर्टिकल पढ़कर आपको BCA kya hai पता चल गया होगा। अवर आपका कोई और समस्या है तो आप उसे नीचे कमेंट में पूछ सकते है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here